एक रात शिव के साथ, महाशिवरात्रि पर ईशा फाउंडेशन में भव्य कार्यक्रम का आयोजन

हिंदू धर्म में महाशिवरात्रि का त्योहार बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। माघ महीने की अमावस्या में मनाए जाने वाला यह त्योहार शिव भक्तों के लिए काफी खास होता है।

इस खास दिन को भारत के अलग अलग मंदिरों में भोलेनाथ के भक्त महाकाल का अभिषेक, पूजा-पाठ करते नजर आते हैं। इसी कड़ी में कोयम्बटूर स्थित ईशा योग केंद्र में त्यौहार बड़ी प्रमुखता से हर वर्ष मनाया जाता है।

ईशा योग केंद्र की स्थापना भारतीय योगी और लेखक सद्गुरु ने की थी। यह तमिलनाडु के कोयम्बटूर में स्थित है। यहाँ सद्गुरु ने शिव की 112 फीट की स्टील की मूर्ति की स्थापना की है जो अपने तरह की विश्व में सबसे बड़ी प्रतिमा है। हर वर्ष यहाँ शिवरात्रि के मौके पर एक खास आयोजन होता है जिसमें लाखों लोग शामिल होते है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Priyanka Rewri (@priyanka_rewri)

हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी सद्गुरु की मौजूदगी में 18 फरवरी को शाम 6 बजे से 19 फरवरी को सुबह 6 बजे तक शिवरात्रि महोत्सव मनाया जाएगा, महाशिवरात्रि 2023 ध्यानलिंग में पंच भूत आराधना और लिंग भैरवी महायात्रा के साथ शुरू होगी।

इसके बाद सद्गुरु का प्रवचन होगा। फिर मध्यरात्रि ध्यान, आदियोगी दिव्य दर्शनम, एक 3डी प्रोजेक्शन वीडियो इमेजिंग शो दिखाया जाएगा।

Isha Foundation on Twitter: "17 days to go for Mahashivratri 2021.  https://t.co/zCtZL62lOG #DailyAdiyogiDarshan #Mahashivratri2021  https://t.co/2lg2sOUhYx" / Twitter

इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न हिस्सों से प्रसिद्ध कलाकार अपनी कला से सभी को मनोरंजित भी करते है, इस बार राजस्थानी लोक गायक मामे खान, पुरस्कार विजेता सितार वादक नीलाद्रि कुमार, टॉलीवुड गायक राम मिरियाला और तमिल पार्श्व गायक वेलमुरुगन लोगों का मनोरजन करेंगे।

NGT Gives Nod to Isha Foundation for Mahashivaratri Celebrations

महाशिवरात्रि पर इस कार्यक्रम को ऑनलाइन लाइव स्ट्रीम भी किया जाता है जिसे दुनियाभर में लाखों लो देखते है। 2022 में इस कार्यक्रम को 192 देशों में 22 भाषाओं में 140 मिलियन व्यूज के साथ टेलीकास्ट और लाइव-स्ट्रीम किया गया था।