सैलानियों की पहली पसंद है राजस्थान का गड़ीसर लेक, विदेशी पर्यटकों का लगता है ताँता

गड़ीसर झील जिसे गड़सीसर झील भी कहा जाता है, राजस्थान के जैसलमेर जिले में स्थित एक झील है। रेगिस्तान के बीच में स्थित यह एक मानव निर्मित झील है जो सैलानियों की पहली पसंद बन चूका है।

गड़ीसर झील के खूबसूरती का दीदार करने के लिए भारत के अलग अलग जगहों से पर्यटक पहुंचते है साथ ही यह लेक विदेशी सैलानियों को भी खूब आकर्षित करता है।

जैसलमेर किले से लगभग 1.5 किलोमीटर दूर स्थित इस झील का निर्माण जैसलमेर के संस्थापक राजा रावल जैसल ने 1156 ई॰ में करवाया था उसके बाद 1367 ई॰ के आसपास गड़सीसिंह द्वारा इसका पुनर्निर्माण कराया गया था।

ऐसा माना जाता है कि इस झील ने एक बार पूरे शहर को पानी उपलब्ध कराया था। वर्तमान में, पानी इंदिरा गांधी नहर से गड़ीसर झील में आता है, इसलिए यह कभी नहीं सूखती है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Sagar🇮🇳 (@journeybegins9)

जब आप गड़ीसर झील घूमने के लिए जाते हैं तो आपको सबसे पहले टिल्लन का द्वार दिखाई देता है को जो झील के खूबसूरत परिवेश में आपका स्वागत करता है, इसे समृद्ध पीले बलुआ पत्थर पर उकेरा गया है जो गड़ीसर झील के लिए एक राजसी आकर्षक प्रवेश द्वार के रूप में स्थित है।

इस लेक में आप बोटिंग का भी आनंद उठा सकते है, गड़ीसर झील में आप मछलियों को बिस्किट या चावल जैसी चीजें खिला सकते हैं और अपनी यात्रा का पूरा मजा उठा सकते हैं। साथ ही झील के पास सूर्यास्त और सूर्योदय का दृश्य काफी बेहतर दिखाई देता है।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Saikrupa (@saikrupaswami)

सर्दियों के दौरान भरतपुर पक्षी अभयारण्य के प्रवासी पक्षी अक्सर उड़कर झील के पास या किनारों पर बैठ जाते हैं। सर्दियों में यह जगह पक्षी प्रेमियों और फोटोशूट के लिए स्वर्ग सा बन जाता है।

गड़ीसर झील से आकाश का दृश्य और जैसलमेर किले का दृश्य बहुत ही आकर्षक दिखाई देता है, ऐसे में जब भी जैसलमेर की यात्रा प्लान करें तो निश्चित रूप से यह जगह आपके लिस्ट में शामिल होना चाहिए।