गोरखपुर में घूमने की जगह |Places to visit in Gorakhpur

उत्तर प्रदेश का एक प्रमुख जिला गोरखपुर है, जो कि उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ से लगभग 270 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। महान संत गोरक्षनाथ जी के नाम पर गोरखपुर का नाम रखा गया है। इस शहर के मुख्य नदी राप्ती नदी है। साथ ही गोरखपुर में और भी बहुत सारी नदियां बहती है। गोरखपुर में घाघरा, रोहित, कुओना नदियां भी बहती है। गोरखपुर में कई सारे पर्यटन घूमने है, जहां काफी पर्यटक घूमने आते है।

गोरखपुर में घूमने की जगह |Places to visit in Gorakhpur

रामगढ़ ताल गोरखपुर (Ramgarh Taal Gorakhpur)

गोरखपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल रामगढ़ ताल है, जो कि एक बहुत बड़ी झील है। गोरखपुर शहर के बीचोंबीच स्थित यह झील बहुत बड़े एरिया में फैली हुई है। झील के किनारे आपको सुंदर गार्डन है। साथ ही इस झील के किनारे आप बोटिंग का भी मजा ले सकते हैं। साथ ही यहां पर नौका विहार पॉइंट भी बना हुआ है, जहां पर अलग-अलग बोट का आप मजा ले सकते हैं।

रामगढ़ ताल गोरखपुर (Ramgarh Taal Gorakhpur)

श्री गोरखनाथ मंदिर (Shri Gorakhnath Mandir Gorakhpur)

गोरखपुर शहर का एक प्रमुख धार्मिक स्थल श्री गोरखनाथ मंदिर है, जो पूरे देश में प्रसिद्ध है। यह गोरखपुर जिले में बहुत बड़े एरिया में बना हुआ सफेद पत्थर से बना हुआ बहुत ही सुंदर मंदिर है। गुरु गोरखनाथ को समर्पित यह मंदिर नाथ संप्रदाय का एक प्रसिद्ध मंदिर है। मंदिर में गार्डन बना हुआ है। साथ ही यहां पर गौशाला भी बनी हुई है। और म्यूजियम भी है।

श्री गोरखनाथ मंदिर (Shri Gorakhnath Mandir Gorakhpur)

गीता प्रेस गोरखपुर (Geeta Press Gorakhpur)

भगवान श्री कृष्ण जी को समर्पित मंदिर गोरखपुर का एक प्रमुख स्थल है। यहां म्यूजियम भी है, साथ ही आपको बहुत ही सुंदर पेंटिंग देखने के लिए मिल जाती है। 1923 में गीता प्रेस की स्थापना की गई थी। जहां पर सभी भाषाओं में यह किताबें उपलब्ध रहती हैं।

गीता प्रेस गोरखपुर (Geeta Press Gorakhpur)

श्री बुढ़िया माई मंदिर गोरखपुर (Shri Budhiya Mai Mandir Gorakhpur)

गोरखपुर शहर का एक धार्मिक स्थल श्री बुढ़िया माई मंदिर है। यहां मंदिर में बुढ़िया माई की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। साथ ही यहां और भी बहुत सारे मंदिर बनाए गए हैं। मंदिर के प्रवेश द्वार में गणेश जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलेगी। मंदिर में आपको और भी देवी-देवताओं की मूर्तियां देखने के लिए मिलती है।

श्री बुढ़िया माई मंदिर गोरखपुर (Shri Budhiya Mai Mandir Gorakhpur)

लेहड़ा देवी मंदिर गोरखपुर (lehra devi temple gorakhpur)

गोरखपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर लेहड़ा देवी मंदिर है। लेहड़ा देवी का मंदिर गोरखपुर में फरेंदा तहसील से लगभग 5 किलोमीटर की दूरी पर अरदौना में स्थित है। पांडवों के द्वारा इस मंदिर की स्थापना की गई थी। यह बहुत सुंदर मंदिर बना हुआ है यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं।

लेहड़ा देवी मंदिर गोरखपुर (lehra devi temple gorakhpur)

श्री माता महाकाली मंदिर गोरखपुर (Shri Mata Mahakali Mandir Gorakhpur)

गोरखपुर का एक प्रसिद्ध श्री काली माता का मंदिर जो कि एक प्राचीन मंदिर है। मंदिर के गर्भ गृह में काली माता की बहुत ही सुंदर प्रतिमा विराजमान हैं। जो कि एक बहुत ही सुंदर प्रतिमा है। साथ ही यहां और भी बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। साथ ही इस मंदिर को गोलघर काली माता मंदिर के नाम से भी जाना जाता है।

श्री माता महाकाली मंदिर गोरखपुर (Shri Mata Mahakali Mandir Gorakhpur)