तिरुपति बालाजी के मात्र 300 रूपये में करे स्पेशल दर्शन, जल्दी करे दिसंबर दर्शन की बुकिंग

tirupati balaji

Tirupati Balaji Special Darshan : तिरुपति बालाजी के बारे में तो हम सभी जानते हैं। उनके दर्शन तो कौन नहीं करना चाहता, लेकिन भीड़ भाड़ के कारण उनके दर्शन कर पाना इतना सरल नहीं है। जिसके चलते आंध्र प्रदेश के तिरुमला में स्थिति तिरुपति देवस्थानम में भगवान तिरुपति के दर्शन करने जाने की योजना है।

इसके चलते आपको लंबी लाइन में खड़े होकर भगवान के दर्शन करने चिंता नहीं रहेगी हैं। तो फिर बिना किसी देरी के सिर्फ ₹300 में भगवान तिरुपति के दर्शन के लिए स्पेशल एंट्री टिकट की बुकिंग कर लें। अगर यह मौका हाथ से निकल गया तो याद रखें, भगवान तिरुपति के दर्शन में कम से कम 4-5 घंटों का समय लगना निश्चित है।

दिसंबर दर्शन के लिए बुकिंग

तिरुमला तिरुपति देवस्थानम(TTD) मंदिर प्रबंधन ने दिसंबर में दर्शन के लिए स्पेशल एंट्री टिकट बुकिंग की तारीख जारी कर दी है। तिरुपति मंदिर में 1 दिसंबर से 22 दिसंबर 2023 तक जो भक्त भगवान तिरुपति के दर्शन स्पेशल एंट्री टिकट के माध्यम से करना चाहते हैं, उनके लिए टिकट की बुकिंग 25 सितंबर को सुबह 10 बजे ओपन कर दी जाएगी।

तीर्थ यात्री भीड़ भाड़ से बचने और जल्दी दर्शन के लिए इसकी बुकिंग TTD के आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन कर सकते हैं। लेकिन आप इसकी बुकिंग जितनी जल्दी करेंगे उतना ही अच्छा रहेगा स्पेशल  बुकिंग को कब बंद कर दिया जाएगा, इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी है।

दिव्यांग कोटा से बुकिंग

इतना ही नहीं इसके साथ में1 दिसंबर से 22 दिसंबर 2023 के बीच भगवान तिरुपति के दर्शन के लिए जो तीर्थ यात्री वरिष्ठ नागरिक/दिव्यांग कोटा से बुकिंग करना चाहते हैं, उसकी बुकिंग 23 सितंबर 2023 को दोपहर 3 बजे से शुरू होगी।

दिसंबर के लिए तिरुमला अंगप्रदक्षिणम टोकन की बुकिंग 23 सितंबर को सुबह 10 बजे से ओपन कर दी जाएगी। 1 दिसंबर से 22 दिसंबर 2023 के बीच दर्शन और अकोमडेशन कोटा से बुकिंग 23 सितंबर को सुबह 11 बजे से ओपन होंगी।

आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में तिरुमला पर्वत पर स्थित तिरुपति बालाजी का यह मंदिर दुनियाभर में प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर भगवान विष्णु के अवतार श्री वेंकटेश्वर स्वामी को समर्पित है। कहा जाता है कि, इस मंदिर के दर्शन से सभी मनोकामनाएं पूरी होती है।

मंदिर से जुड़ी कई कथाएं भी हैं, जैसे भगवान वेंकटेश्वर के बाल असली हैं। भगवान की मूर्ति को पसीना आता है। भगवान की मूर्ति की पीठ पर अगर कान लगाया जाए तो समुद्र की आवाजें सुनाई देती हैं।

इन सभी मान्यताओं के साथ भक्तों का इस मंदिर के प्रति गहरी आस्था है। हर दिन सैकड़ों की संख्या में भक्त तिरुमला तिरुपति मंदिर में भगवान वेंकटेश्वर के दर्शन करने आते रहते हैं।