राजस्थान वासियो के लिए खुशखबरी, भारतीय रेलवे ने दी राज्य को पहली हेरिटेज ट्रैन की सौगात

Fairy queen train

First Heritage Train Rajasthan :  राजस्थान दुनिया भर में अपने पर्यटन के लिए मशहूर है। यहां का इतिहास और ऐतहासिक धरोहर का तो कहना ही क्या, यहां पर अनेक वीरो की वीरता की कहानिया आपको देखने और सुनने को मिलेगी।

राजस्थान में एक से बढ़कर एक प्राचीन काल के किले मौजूद है। दुनिया भर में राजस्थान अपने ऐतिहासिक किलों के लिए जाना जाता है।

राजस्थान देशी विदेशी दोनों पर्यटकों को खूब भाता है, ऐसे में अब राजस्थान के पर्यटन में एक और खास चीज जुड़ गई है। राजस्थान में अब पर्यटक यहां की पहली हेरिटेज ट्रेन की सवारी का भी लुत्फ उठा सकेंगे।

यूँ तो राजस्थान की बहुत सी ट्रैन जैसे पैलेस ऑन व्हील्स अपने आप में अपनी शाही ठाठबाठ और अपने रॉयल ट्रीटमेंट के लिए काफी प्रसिद्ध है।  ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हेरिटेज ट्रेन को वर्चुअल हरी झंडी दिखाकर , राजस्थान को हेरिटेज ट्रैन की सौगात दी है।

यह देश की छठी और राजस्थान की पहली हेरिटेज ट्रेन है।आईए जानते हैं इस हेरिटेज ट्रेन से जुड़ी हर एक जानकारी विस्तार से।

 

ट्रेन से जुड़ी खास बातें

यह ट्रेन पाली जिले के मारवाड़ जंक्शन रेलवे स्टेशन से कामलीघाट के बीच में चलेगी। इस ट्रैन का समय मारवाड़ जंक्शन से सुबह 8:30 पर खुलकर रवाना होगी और वही 11:00 बजे कामलीघाट पहुंचेगी।

इस ट्रैन की एक ख़ास बात यह हैं की इस ट्रैन के ट्रेन को डेढ़ सौ साल पुराने भाप के इंजन की तरह हेरिटेज लुक देकर तैयार किया गया है।

यह ट्रेन हफ्ते में चार दिन चलेगी और इसका किराया ₹2000 होगा। इस  ट्रेन में एक बार में करीब करीब 60 यात्री बैठ सकेंगे। लेकिन इसके लिए एक और ख़ास बात यह है की ट्रेन चलाने के लिए कम से कम 10 यात्रियों की बुकिंग जरूरी होगी।

इतना ही नहीं इस ट्रेन में लगाई गई कुर्सियां 360 डिग्री तक घूम सकती है, जिससे आप चारो तरफ के नाजरे देखते देखते अपनी यात्रा एन्जॉय कर सकते हैं।

ये बाते हैं सबसे अलग

इतना ही नहीं आपको जानकार हैरानी होगी। इस ट्रैन की एक खास बात यह है कि सफर के दौरान टूरिस्ट अपने मन मुताबिक कहीं भी ट्रेन को रुकवा सकते हैं।

इस ट्रेन पर बैठकर पर्यटक भील बेरी झरना के खूबसूरत नजारों का लुक उठा पाएंगे ट्रेन के दोनों तरफ कई बड़ी-बड़ी खिड़कियां लगाई गई है जिससे यात्री व्यू का पूरी तरह से लुत्फ उठा सके।

ट्रेन में सैलानियों के सुविधाओं का भी पूरा ध्यान रखा गया है, ट्रेन में आपको खाने पीने के सामान भी मिल जाएंगे हालांकि, इसके लिए आपको अलग से पैसे चुकाने होंगे।