ये है भारत का सबसे महंगा होटल, एक रात का किराया सुनकर कर उड़ जाएंगे होश

Taj Lake Place

Most Expensive Hotel In India : भारत में एक से एक बढ़कर शानदार होटल्स हैं। हर होटल अपनी खासियत और अपनी शानदार सुविधाओं के लिए जाना जाता है।

ऐसे में आज हम आपको भारत के सबसे महंगे होटल के बारे में बताने जा रहे हैं।

यह होटल उदयपुर के लेक पिचोला पर मौजूद ताज लेक पैलेस होटल राजा-महाराजाओं के जमाने से बनाया हुआ है। पहले ये बड़ा ही खूबसूरत महल हुआ करता था। फिर इसे होटल बना दिया गया।

ये होटल इसलिए खास है, क्योंकि यह  तालाब के बीच में स्थित है, जो यहां आने वाले पर्यटकों को काफी ज्यादा आकर्षित करती है।

लेकिन अगर आप जल महल में एक रात रुकना चाहते हैं, तो इसका एक रात का किराया आपको हैरान कर देगा। आइये जानते हैं इस होटल की खासियत के बारे में

क्या है महाराजा स्वीट का एक रात का किराया

अगर आप इस होटल के महाराजा स्वीट का किराया जानोगे तो आपको हैरानी होगी। ताज लेक पैलेस का में एक रात का किराया आपको करीबन साढ़े तीन लाख रुपए पड़ेगा।

ताज लेक पैलेस होटल 65 कमरों और 18 ग्रैंड स्वीट्स के साथ लेक पिचोला पर स्थित है।

इस होटल में आपको 18वी सदी का आर्किटेक्चर दिखाई देगा और कई इंस्टाग्राम फोटोज के लिए कई स्पॉट्स भी मिल जाएंगे।

इसमें रुकने का किराया करीबन 36,000 रुपए से शुरू है, जो करीबन साढ़े तीन लाख है। यहां रुकना आम आदमी के लिए एक सपने जैसा है।

यहां आप ले सकते हैं बोटिंग मजा

अगर आपके पास इस होटल में रुकने का बजट नहीं है तो फिर आप यहां पर  बोट राइड्स का मजा ले सकते हैं। ताज लेक पैलेस होटल असल में उदयपुर का जल महल है, जिसे 18 वी सदी में बनाया था।

सिटी पैलेस के पास स्थित है लेक पिचोला

ताज लेक पैलेस मार्बल से बना है और आप नाव की मदद से यहां पहुंच सकते हैं।

उदयपुर के लिए सिटी पैलेस के पास लेक पिचोला जाने के लिए कोई भी ट्रांसपोर्ट कर सकते हैं और ताज पैलेस देखने के लिए आपको लकड़ी की नाव लेनी पड़ेगी। इस राइड में आपको झील की खूबसूरती देखने को मिलेगी।

किसने कराया जल महल का निर्माण

इस जल महल का निर्माण 1746 में महाराजा जगत सिंह द्वितीय द्वारा करवाया गया था। इसे खासतौर पर लेक पिचोला पर बनाया गया था जो जगह खूबसूरत नजारों से घिरी है।

लेक पिचोला आर्टिफिशियल लेक है, जिसे 1362 में बंजारा जनजाति के सदस्य पिच्चू बंजारा ने बनवाया। आप जब भी उदयपुर आये यहां घूमना नहीं भूले।