मानसून में घूमने की है कर है प्लानिंग तो महाराष्ट्र की इन फेमस वाटरफॉल्स को देखना न भूलें

अगर आप बारिश के मौसम में महाराष्ट्र की यात्रा करने की सोच रहे है तो यहां पर कुछ खूबसूरत झरने हैं जो बारिश के मौसम में और भी ज्यादा खूबसूरत लगते हैं। ऐसे में आपको अपनी यात्रा की लिस्ट में इन शानदार और खूबसूरत झरनों को जरूर शामिल करना चाहिए। तो आइए देखते है लिस्ट –

1) चाइनामैन फॉल्स

मनोरम चाइनामैन फॉल्स महाबलेश्वर की कोयना घाटी के दक्षिण में स्थित है, यह महाबलेश्वर से 2.5 किमी दूर है। कार्वियाली रोड से होते हुए चाइनामैन झरने तक पहुंचा जा सकता है। शांत वातावरण और आकर्षक झरना आपके अधूरे ट्रिप को पूरा करता है।

2) दूधसागर वॉटरफॉल

महाराष्ट्र की पूर्वी सीमा पर गोवा और कर्नाटक को छूने वाला दूधसागर वॉटरफॉल अपनी खासियत के कारन काफी पॉपुलर है, यह झरना करीब 1020 फीट ऊँची है। खासबात यह है कि यहां का पानी दूध की तरह सफेद है। इन झरनों को देखने आने वाले ज्यादातर पर्यटक महाराष्ट्र और आस पास के राज्यों से हैं। गोवा आने वाले लोग इस वॉटरफॉल को घूमने जरूर जाते हैं।

3) लिंगमाला वॉटफॉल

यह महाबलेश्वर के सबेस ज्यादा देखे जाने वाले हिल स्टेशन में से एक है। यह यहां का सबसे फेमस और सबसे ज्यादा देखा जाने वाला झरना है। इन झरनों का मुख्य स्रोत वेन्ना घाटी है, जहां से पानी 600 फीट की ऊंचाई से गिरता है। इस जगह पर आपको खूबसूरत नजारा देखने को मिलेगा। खूबसूरत इंद्रधनुष देखने के लिए आप यहां जा सकते हैं।

4) धोबी वॉटरफॉल्स

पेटिट रोड और ओल्ड महाबलेश्वर रोड के कनेक्टिंग पॉइंट के करीब स्थित धोबी फॉल्स अपनी खूबसूरती के लिए पर्यटकों के बीच काफी पॉपुलर है, झरनों की ऊंचाई करीब 450 फीट है और यह कोयना नदी में मिल जाती है। जुलाई से दिसंबर के बीच इस झरने को देखने आप जा सकते हैं।

5) कुणे फॉल्स

कुने फॉल्स खंडाला का एक प्रमुख आकर्षण है, 100 मीटर की ऊँचाई से गिरते हुए इस जलप्रपात को देखने से नही चूकना चाहिए। इस कुन फॉल्स में पानी सफेद दूध के समान दिखता है। मानसून के समय इस स्थान का अनुभव सबसे अच्छा होता है।